मां वैष्णो देवी की भक्ति आराधना पूरी कर नवजोत सिंह सिद्धू लौटे पंजाब

0
271

पूर्व क्रिकेटर तथा फायर ब्रांड नेता पंजाब सरकार के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू करीब 9 दिन मां वैष्णो देवी की भक्ति आराधना करने के उपरांत वापस पंजाब लौट गए हैं।

पूर्व क्रिकेटर तथा फायर ब्रांड नेता पंजाब सरकार के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू करीब 9 दिन मां वैष्णो देवी की भक्ति आराधना करने के उपरांत वापिस पंजाब लौट गए हैं। जानकारी के मुताबिक नवजोत सिंह सिद्धू सुबह मां वैष्णो देवी की दिव्य आरती में शामिल होने के उपरांत मां वैष्णो देवी के चरणों में नतमस्तक हुए और उसके उपरांत कुछ देर भवन पर आराम करके बैटरी कार में सवार होकर कटड़ा के लिए रवाना हुए और वहां से पंजाब के लिए रवाना हो गए।

गौरतलब है कि बीते 3 जुलाई को गुपचुप तरीके से पंजाब सरकार के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू अचानक वैष्णो देवी भवन पहुंचे और मां वैष्णो देवी की भक्ति में लीन हो गए भवन पर लगातार 9 दिन भक्ति रस में लीन रहने के उपरांत नवजोत सिंह सिद्धू पंजाब के लिए रवाना हो गए। शायद यह सिद्धू के जीवनकाल का पहला मामला है कि वह इतने लंबे समय अंतराल के लिए मां के चरणों में ही रहे।

हालांकि इससे पहले कई बार सिद्धू मां वैष्णो देवी के चरणों में पहुंचे हैं और अधिक से अधिक 3 या 4 दिन मां के चरणों में रहे हैं। पर इस बार करीब 9 दिन मां वैष्णो देवी के चरणों में सिद्धू ने गुजारे। सूत्रों की मानें तो एक तरफ सिद्धू का मंत्रालय बदल जाने तथा पंजाब के मुख्यमंत्री के साथ संबधों में खटास आ जाने के चलते शायद नवजोत सिंह सिद्धू ने इतने दिन मानो सरकार से दूरी बना ली ।

ताकि वह अपनी राजनीतिक इच्छाशक्ति पूरी करने को लेकर सरकार पर दबाव बना सके इसलिए नवजोत सिंह सिद्धू गुपचुप तरीके से सीधे मां वैष्णो देवी के चरणों में आ गए। अपने वैष्णो देवी प्रवास के दौरान सिद्धू ना तो किसी से मिले और ना ही किसी को फोटो आदि लेने की इजाजत दी इतना ही नहीं सिद्धू अधिकांश समय कमरे में ही मां वैष्णो देवी की भक्ति रस में डूबे रहे।

हालांकि अपनी वैष्णो देवी यात्रा के दौरान सिद्धू एक दो बार गुपचुप तरीके से भैरों घाटी भी पहुंचे और बाबा भैरवनाथ के चरणों में भी नतमस्तक हुए। आखिरकार अपना अज्ञातवास समाप्त कर सिद्धू पंजाब के लिए रवाना हो गए।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here