ट्राइसिटी चंडीगढ़ में मेट्रो की संभावनाएं तलाशेगी सरकार, बढ़ेगा परियोजनाओं का नेटवर्क

0
116

चंडीगढ़। हरियाणा सरकार राज्य में मेट्रो रेल परियोजनाओं का नेटवर्क बढ़ाएगी। इसे चौथे चरण में डबल करने की योजना है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे एनसीआर के पांच प्रमुख जिलों गुरुग्राम, फरीदाबाद, सोनीपत, झज्जर और रोहतक में मेट्रो कनेक्टिविटी को बढ़ाने के लिए तेजी से काम करें।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में पडऩे वाली सभी मेट्रो रेल परियोजनाओं का कंट्रोल (नियंत्रण) हरियाणा मेट्रो रेल परिवहन निगम के अधीन लाया जाए, ताकि राज्य सरकार को दिल्ली मेट्रो रेल निगम और आरआइटीईएस सरीखे संस्थानों पर निर्भर न रहना पड़े। ट्राइसिटी चंडीगढ़ में भी मेट्रो चलाने की संभावनाएं खुद हरियाणा सरकार तलाश करेगी।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने चंडीगढ़ में हरियाणा की मेट्रो रेल परियोजनाओं की समीक्षा की, जिनका संचालन दिल्ली मेट्रो रेल निगम द्वारा किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने सभी रेल परियोजनाओं के क्रियान्वयन में तेजी लाने के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं। मुख्यमंत्री ने सभी आधा दर्जन रेल परियोजनाओं पर विस्तार से अलग-अलग चर्चा की। पहली मेट्रो रेल परियोजना नरेला से कुंडली मेट्रो कारिडोर की है, जिसकी लंबाई 4.86 किलोमीटर होगी। इसे राजीव गांधी एजुकेशन सिटी सोनीपत तक विस्तारित किया जाएगा।

गुरुग्राम और फरीदाबाद के बीच सबसे लंबा मेट्रो कारिडोर

गुरुग्राम और फरीदाबाद के बीच 30.38 किलोमीटर लंबा मेट्रो रेल कारिडोर बनेगा। सिटी पार्क (बहादुरगढ़) से सांपला (रोहतक) तक 17.10 किलोमीटर लंबा मेट्रो रेल कारिडर बनाया जाना प्रस्तावित है। 23.10 किलोमीटर लंबाई का मेट्रो रेल कारिडर बाढ़सा (एम्स और राष्ट्रीय कैंसर संस्थान) तथा द्वारका (वाया एनपीआर) के बीच होगा। एसपीआर, सेक्टर 56 तथा वाटिका चौक गुरुग्राम के बीच 6.30 किलोमीटर लंबाई का मेट्रो कारिडोर बनाया जाना प्रस्तावित है।

डबल की जाएगी मेट्रो रेल नेटवर्क की लंबाई

मुख्य सचिव डीएस ढेसी के अनुसार हरियाणा में फिलहाल 40 किलोमीटर लंबाई का देश का सबसे अधिक मेट्रो रेल नेटवर्क उपलब्ध है, जिसे भविष्य में दिल्ली मेट्रो रेल निगम के चौथे चरण में 75 से 80 किलोमीटर तक विस्तारित करने का प्रस्ताव है। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को इस बात की संभावनाएं तलाशने के निर्देश दिए कि वे हरियाणा मेट्रो रेल परिवहन निगम के माध्यम से ट्राइसिटी चंडीगढ़ (पंचकूला, मोहाली व चंडीगढ़) में भी मेट्रो रेल परियोजना के प्रस्ताव पर कार्य करें। बैठक में लोक निर्माण मंत्री राव नरबीर सिंह, शहरी स्थानीय निकाय मंत्री कविता जैन, विधायक उमेश अग्रवाल और तेजपाल तंवर समेत कई विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here