BJP ने लिखी CEO को चिट्ठी, आपराधिक केस छिपा रहे 26 उम्मीदवार

0
83

आपराधिक मामलों के दोषी या संगीन मामलों की जांच का सामना कर रहे प्रत्याशियों द्वारा जानकारी सार्वजनिक नहीं करने को लेकर भाजपा ने चुनाव आयोग का दरवाजा खटखटाया है। लोकसभा चुनाव में कांग्रेस, इनेलो, जजपा और आम आदमी पार्टी के 26 उम्मीदवार ऐसे हैं जो आपराधिक मामलों का सामना कर रहे हैं। नियमानुसार सभी प्रत्याशियों को अपने ऊपर चल रहे केसों की जानकारी तीन बार मीडिया के जरिये लोगों को देनी अनिवार्य है, लेकिन अभी तक किसी ने ऐसा नहीं किया

हरियाणा भाजपा के विधि प्रकोष्ठ ने मुख्य निर्वाचन अधिकारी (CEO) को चिट्ठी लिखकर नियमों का पालन कराने की मांग की है, ताकि आमजन को अपने उम्मीदवारों के बारे में पूरी जानकारी मिल सके। प्रदेश में अंबाला से इनेलो प्रत्याशी रामपाल, कुरुक्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याशी निर्मल सिंह, सिरसा से हरियाणा कांग्रेस के अध्यक्ष अशोक तंवर, हिसार से इनेलो प्रत्याशी सुरेश कौंथ, सोनीपत से कांग्रेस प्रत्याशी पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा, रोहतक से जजपा प्रत्याशी प्रदीप देसवाल, भिवानी-महेंद्रगढ़ से इनेलो प्रत्याशी बलवान सिंह, फरीदाबाद से कांग्रेस प्रत्याशी अवतार सिंह भड़ाना व आम आदमी पार्टी प्रत्याशी नवीन जयहिंद सहित अन्य कई निर्दलीय प्रत्याशी अलग-अलग आपराधिक मामलों का सामना कर रहे हैं।

भाजपा के विधि विभाग के अनुसार 26 अप्रैल को नामांकन वापस लेने की समय सीमा खत्म होने के बावजूद अभी तक आपराधिक मामलों का सामना कर रहे उम्मीदवारों ने इस दिशा-निर्देश का पालन नहीं किया है। उन्होंने चुनाव आयोग से मतदान से दो दिन पहले तक इन उम्मीदवारों द्वारा ऐसी जानकारी प्रकाशित कराने की मांग की।

उन्होंने कहा कि विगत 10 अक्टूबर को चुनाव आयोग ने सभी उम्मीदवारों को उन पर चल रहे आपराधिक मामले, उनकी वर्तमान स्थिति तथा दोषी सिद्ध होने जैसी जानकारी को प्रिंट-इलेक्ट्रानिक मीडिया के माध्यम से आमजन तक पहुंचाने के निर्देश दिए थे ताकि मतदाता सही उम्मीदवार को चुनने का निर्णय ले सकें।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here