छोटे भाई के साथ मिलकर अपनी ही पत्नी की आरी से किया हत्या, ये थी वजह

0
88

पानीपत, जेएनएन। अवैध संबंध के शक में पति ने पत्‍नी की न केवल गला दबाकर हत्‍या कर दी, बल्कि शव को आरी से तीन हिस्‍सों में काट दिया। शव को कट्टे में डालकर राजवाहे में फेंक दिया। वारदात पुलिस ने राजवाहे से शव का नीचे का हिस्सा बरामद कर लिया। दूसरा कट्टा अगले दिन मिल गया। मामला पानीपत के जौरासी रोड स्थित न्यू पंचवटी कॉलोनी का है। आरोपित राजमिस्त्री इश्तियाख उर्फ मुन्ना है। उसने छोटे भाई के साथ मिलकर वारदात को अंजाम दिया।

मृतका के भाई नबीन ने पुलिस को दिए बयान में बताया कि वह राजस्थान के करोली जिले के गांव खुबनगर का रहने वाला है। हाल में माला राम पटियाला सेक्टर 3 संयोग विहार द्वारका दिल्ली में किराये पर रहता है। उसकी तीन बहनें हैं, जो शादीशुदा हैं। उसकी छोटी बहन अफसाना की शादी वर्ष 2005 में इश्तियाख उर्फ मुन्ना वासी गांव चरखारी जिला महुआ उत्तर प्रदेश के साथ की थी। वह पहले उनके पड़ोस में ही रहता था। वह शादी के बाद उसकी बहन को लेकर समालखा आ गया था। वह अब जौरासी रोड स्थित न्यू पंचवटी कॉलोनी में सुरेंद्र के मकान में किराये पर रह रहा था। उसने बताया कि कई दिन से उसकी बहन अफसाना के साथ बातचीत नहीं हो पा रही थी। इसके चलते वह उसके कमरे पर आया तो वह उसे नहीं मिली।

जौरासी रोड के राजवाहे मे पाया गया अफसाना का शव

पड़ोसियों की भाई से पूछताछ

उसने अपने जीजा से अपनी बहन के बारे में पूछा तो उसने कोई संतोषजनक जवाब नहीं दिया। जिस पर उसने आस पड़ोस के लोगों से पूछा तो पता चला की इश्तियाख ने उसकी बहन अफसाना की गला दबाकर हत्या कर दी और शव को खुर्द बुर्द करने की नीयत से काटकर राजवाहे में फेंक दिया। जिसके बारे में उसने पुलिस को अवगत कराया।

हिस्सों में मिला शव

मामले में भनक लगने के बाद चौकी पुलिस ने जौरासी रोड के पास से गुजर रहे राजवाहे पर अफसाना के शव की तलाश करने को पहुंची। पुलिस को जौरासी व गढ़ी छाजू वाले पुल के बीच में एक कट्टा मिला। जिसमें पैर व शरीर का नीचला हिस्सा मिला। जबकि ऊपर का हिस्सा अगले दिन बरामद हुआ।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here